Go to ...

Skill Reporter

Informational updates on skill development, technical vocational education and training

Skill Reporter on Google+Skill Reporter on YouTubeSkill Reporter on LinkedInSkill Reporter on PinterestRSS Feed

April 21, 2018

उत्कृष्ट अनुसंधान संस्थाएं विकसित करने और अध्यापकों के कौशल में विकास के लिए बनेगा 20 हजार करोड़ रूपये का विशेष कोष


जयपुर :  मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने एक डीम्ड विविद्यालय के दीक्षान्त समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रतिभा पलायन को रोकने के लिए देश में विस्तरीय अनुसंधान सुविधाएं विकसित करने के साथ ही अध्यापन की गुणवाा में सुधार पर विशेष ध्यान केन्द्रित किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि देश के होनहार विद्यार्थी आम तौर पर इन दोनों सुविधाओं के अभाव में विदेशों में पढ़ने के लिए चले जाते हैं। देश में उत्कृष्ट अनुसंधान संस्थाएं विकसित करने और अध्यापकों के कौशल में विकास के लिए 20 हजार करोड़ रूपये का विशेष कोष बनाया जाएगा।

जावड़ेकर ने कहा कि छात्रवृति के तौर पर दी जाने वाली धनराशि का कम होने भी प्रतिभा पलायन का महत्वपूर्ण कारण है। इससे निपटने के लिए सरकार ने तय किया है कि हर साल देश के एक हजार सर्वश्रेष्ठ विद्यार्थयिों को हर महीने 75 हजार की प्रधानमंत्री छात्रवृाि दी जायेगी। सरकार देश से प्रतिभा पलायन को रोकने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी।

उन्होंने कहा कि सरकार ने देश में उच्च शिक्षा की गुणवाा में सुधार के उद्देश्य से 20 विस्तरीय विविद्यालय खोलने का फैसला किया है। इन्हें पहले चरण में दुनिया के श्रेष्ठ 200 और दूसरे चरण में प्रथम 100 विविद्यालयों में स्थान दिलाने के लक्ष्य के साथ खोला जाएगा।

जावड़ेकर ने कहा कि शिक्षा का मूल उद्देश्य ग्यानवर्धन और कौशल विकास के साथ ही अच्छे इंसान बनाना होना चाहिए। उन्होंने कहा कि शिक्षकों के साथ-साथ अभिभावकों का भी यह कर्त्तव्य है कि वे बच्चों और युवाओं को समाज के विकास में भरपूर योगदान देने के लिए प्रेरित करें।

उन्होंने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि देश के उच्च शिक्षण संस्थानों में एकता में अनेकता के माहौल के बीच पड़ने का मौका मिलता है। इससे उनके व्यक्तित्व के समग्र विकास में मदद मिलती है।

जावड़ेकर ने बताया कि प्रधानमंत्री की पहल पर शुरू किये गए ऑनलाइन शिक्षण पोर्टल “स्वयं” को काफी लोकप्रियता मिल रही है। अब तक डेढ़ लाख से अधिक विद्यार्थी इस पोर्टल पर पंजीकरण करा चुके हैं।

समारोह को राज्य की उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेरी और शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर विविद्यालय द्वारा संचालित विभिन्न पाठ्यक््रुमों के करीब एक हजार विद्यार्थयिों को उपाधि प्रदान की गई। उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थयिों को स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया।

Note: News shared for public awareness with reference from the information provided at online news portals.

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

More Stories From Other Ministries