Go to ...

Skill Reporter

Informational updates on skill development, technical vocational education and training

Skill Reporter on Google+Skill Reporter on YouTubeSkill Reporter on LinkedInSkill Reporter on PinterestRSS Feed

April 25, 2018

राज्य के सभी अनुमंडलों में बनेगा आदर्श कौशल विकास केंद्र : श्रम मंत्री


छपरा : राज्य के श्रम संसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि हमारी सरकार की मंशा है कि बेरोजगार युवाओं को कौशल विकास का प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया जाए। आज के समय में केंद्र एवं राज्य सरकार के लिए रोजगार का अवसर उपलब्ध कराना चुनौती है। इसको देखते हुए हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी सजग हैं। इसी के मद्देनजर प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना एवं राज्य सरकार ने सात निश्चय योजना के तहत केवाईपी शुरू किया है ताकि बेरोजगार युवाओं को प्रशिक्षित कर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया जा सके। श्रम मंत्री ने रविवार को स्थानीय राजेंद्र स्टेडियम में राष्ट्रीय कौशल विकास निगम के तत्वावधान में आयोजित दो दिवसीय रोजगार मेला सह प्रदर्शनी के उद्घाटन समारोह में कही। इसके पूर्व उन्होंने सांसद राजीव प्रताप रूडी, डीएम हरिहर प्रसाद, विधायक डॉ.सीएन गुप्ता के साथ दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

श्रम मंत्री ने कहा कि प्रदेश के अंदर हमारे विभाग से आठ लाख प्रतिष्ठान रजिस्टर्ड हैं। जीएसटी लागू होने के बाद सभी को एकाउंटेंट की जरूरत है। इसको देखते हुए सरकार ने निर्णय लिया है कि कौशल विकास केंद्र से एकाउंटेंसी की पढ़ाई की जाए और उन्हें जीएसटी का प्रशिक्षण दिया जाए। इसके लिए राज्य के सभी अनुमंडलों में आदर्श कौशल विकास केंद्र खोलने का सरकार ने निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि कौशल विकास केंद्र से प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए सरकार लगी हुई है। सरकार की मंशा है कोई भी अनपढ़ नहीं रहे। सभी को कंप्यूटर का ज्ञान रहना जरूरी है। श्रम मंत्री ने कहा कि छपरा की धरती पर इतना बड़ा रोजगार मेला देश में पहली बार लगा है। यह शुरुआत है आगे भी रोजगार मेला लगते रहेंगे। सारण में मेरे विभाग द्वारा रोजगार मेला आयोजित किया गया था। जिसमें एक हजार आवेदन पड़े थे, जिसमें 483 युवाओं का चयन किया गया था। प्रमंडल स्तर पर भी यहां रोजगार मेला लगा था, जिसमें 1187 आवेदन आए थे और इसमें 534 युवाओं का चयन किया गया था। केंद्र सरकार के पूर्व मंत्री सह स्थानीय सांसद राजीव प्रताप रूडी ने कहा कि यह मेला शानदार है। इस मेला में कम समय के अंदर करीब 12 हजार युवा यहां आए हैं। जिसका रजिस्ट्रेशन हुआ है उसका साक्षात्कार भी होगा। इसके लिए इस मेला में 110 कंपनियां पूरे भारत से यहां आई है। सारण के युवाओं के लिए जो 5300 रिक्त पद को लेकर कंपनियां यहां आई है वह खाली नहीं जाएगी। आपके योग्यता के अनुसार आपका चयन किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि आप किसी न किसी बहाने से कम पैसा में बाहर चले जाते हैं और दो वर्ष तक उसमें कार्य करते हैं तो आप आगे बढ़ जाएंगे और आपकी सैलरी भी 50 हजार रुपये तक हो जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत सारण जिले के 1.34 लाख घरों में गैस चुल्हा पहुंचाने का मेरा लक्ष्य है। सारण जिले में सड़क का निर्माण काफी तेजी से कराया गया है। दस फीसद कार्य अभी बाकी है। इतना कार्य किसी भी जिले में नहीं हुआ है। जिले में चारों तरफ बिजली, सड़क बनने के बाद अब मैं शहर में रहने वालों को शहर से निकाल कर गांव लौटने का अभियान शुरू करूंगा। यह अंतिम मेला नहीं है।

छह माह के भीतर देश का सबसे बड़ा रोजगार मेला लगाएंगे। जिसमच् उच्च डिग्री धारी युवाओं का चयन किया जाएगा। वहीं मुजफ्फरपुर के सांसद अजय निषाद ने कहा कि यह मंत्रालय नया बना है। इसकी नींव राजीव प्रताप रूडी ने रखा और यह आज काफी तेजी से कार्य कर रहा है। हम पहली बार देख रहे हैं कि छपरा में इतना बड़ा रोजगार मेला लगा है।

जिलाधिकारी हरिहर प्रसाद ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं में कौशल विकसित करने के लिए यह योजना शुरू की है। जो कंपनियां यहां आई है वह युवाओं को रोजगार उपलब्ध करावें। ज्यादा से ज्यादा युवा नियोजित होंगे तो मेरा देश आर्थिक रूप से संबृद्ध होगा। संबोधन करने वालों में विधायक डॉ.सीएन गुप्ता, पूर्व विधायक विनय सिंह, पूर्व विधायक संजय टाईगर, ज्ञानचंद मांझी, कृष्ण कुमार मंटू, जदयू जिलाध्यक्ष अल्ताफ आलम राजू, शैलेंद्र प्रताप सिंह, रणजीत कुमार सिंह आदि शामिल थे। आगत अतिथियों का स्वागत एनएसडीसी के निदेशक अजय कुमार चंदेल ने किया।

Note: News shared for public awareness with reference from the information provided at online news portals.

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , ,

More Stories From Bihar