Go to ...

Skill Reporter

Informational updates on skill development, technical vocational education and training

Skill Reporter on Google+Skill Reporter on YouTubeSkill Reporter on LinkedInSkill Reporter on PinterestRSS Feed

April 22, 2018

रक्षा शक्ति यूनिवर्सिटी के शिलान्यास पर बोले मुख्यमंत्री : ‘होगी नॉलेज सिटी की शुरुआत, खूंटी में खुलेगी स्किल यूनिवर्सिटी’


खूटी : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि तीन वनवासी इलाकों में इंजीनियरिंग कॉलेज खोले जाएंगे। एक खूंटी में और दूसरा संथाल परगना में। तीसरा कॉलेज कहां खुलेगा, यह तय नहीं हुआ है। खूंटी में स्किल यूनिवर्सिटी खुलेगी। यहां प्लंबर, इलेक्ट्रिशियन और कारपेंटर आदि के कोर्स कराए जाएंगे। इससे कम पढ़े-लिखे युवाओं को भी रोजगार मिल सकेगा। खूंटी के रेवा गांव में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू के साथ रक्षा शक्ति यूनिवर्सिटी का शिलान्यास करने के बाद मुख्यमंत्री सभा को संबोधित कर रहे थे। यह देश की तीसरी रक्षा शक्ति यूनिवर्सिटी है। कार्यक्रम में राज्यपाल ने कहा कि इस यूनिवर्सिटी से युवाओं को सही दिशा मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रेवा गांव में नॉलेज सिटी बनाई जा रही है, जहा रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय समेत अन्य शिक्षण संस्थान खोले जा रहे हैं। यहां एक साल का डिप्लोमा कोर्स करनेवाले छात्रों को झारखंड पुलिस की भर्ती में प्राथमिकता मिलेगी। इसी प्रकार बढ़ते साइबर क्राइम पर रोक के लिए तीन साल का कोर्स कराया जा रहा है। साइबर एक्सपर्ट की माग बढ़ रही है। हमारे यहा पढ़े हुए बच्चे राज्य और देश में अपनी सेवाएं दे सकेंगे। औद्योगिक सुरक्षा बल भी राज्य में खड़ा किया जा रहा है। यहा बड़ी-बड़ी कंपनियों को इनकी जरूरत है। राज्य सरकार इन्हें तैयार कर रोजगार में मदद करेगी।

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि झारखंड सरकार शिक्षा और कौशल विकास पर विशेष ध्यान दे रही है। इस वित्तीय वर्ष में शिक्षा बजट पर सबसे ज्यादा 10577 करोड़ रुपये (बजट की 14 प्रतिशत राशि) खर्च की जा रही है। इसी प्रकार कौशल विकास के लिए 700 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है। राज्य में नए शिक्षण संस्थान खोले जा रहे हैं। शिक्षा से ही गरीबी से निजात पाई जा सकती है। कौशल विकास कर हम लोगों को रोजगार दे सकेंगे। इससे बेरोजगारी की समस्या भी समाप्त होगी। सरकार ने 53 नए महाविद्यालयों की स्थापना की स्वीकृति प्रदान की है। ये उन विधानसभाओं में बनाए जा रहे हैं, जहा कोई महाविद्यालय नहीं है। इनमें 11 मॉडल और 12 महिला महाविद्यालय शामिल हैं।

राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि झारखंड रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय के निर्माण से राज्य में शिक्षा की गति में तेजी आएगी। यह यूनिवर्सिटी ज्ञान का केंद्र बनेगा। राज्य के युवा जो देश सेवा में जाना चाहते हैं, उनके लिए झारखंड रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय एक महत्वपूर्ण मार्गदर्शन का केंद्र बनेगा। यह झारखंड के लिए सम्मान का विषय है। यह राज्य की समरसता को बनाए रखने में मदद करेगा। राज्यपाल रविवार को खूंटी में झारखंड रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय के शिलान्यास के अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित कर रही थीं।

उन्होंने कहा कि झारखंड रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले युवा राज्य की रक्षा करेंगे और राष्ट्रहित में कार्य करेंगे। यूनिवर्सिटी का गठन सिर्फ मकसद नहीं है। यूनिवर्सिटी में हर सुविधा हो और नियमित पढ़ाई हो लैब और पुस्तकालय भी हो यह सुनिश्चित करें। खूंटी में झारखंड रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय की स्थापना से युवाओं को सही दिशा मिलेगी। साइबर अपराध को भी रोकने में इस विवि के छात्र आगे आएंगे।

शिक्षा मंत्री नीरा यादव ने कहा कि आज झारखंड नए रूप में दिख रहा है। झारखंड अब 18 वर्ष का होने वाला है। इस कारण हमारी उम्मीद अब झारखंड से है। झारखंड रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय देश का तीसरा रक्षा शक्ति विश्व विद्यालय है। आज राज्य में नए कासेप्ट शिक्षा के क्षेत्र में आ रहे हैं। शिक्षा हमारा आत्मविश्वास बढ़ाती है। झारखंड में प्राकृतिक संपदा के साथ प्रतिभावान युवा भी हैं। झारखंड रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय के नए परिसर में छत्रों को हर सुविधा मिलेगी। यहां से उतीर्ण होने वाले छात्रों को पुलिस बहाली में अतिरिक्त सुविधा दी जाएगी।

मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा ने कहा कि खूंटी जिला इतिहास में सबसे ऊपर है। भगवान् बिरसा मुंडा की इस धरती को वीर भूमि के रूप जाना जाता है और अब सरकार की मंशा है कि इसे नॉलेज सिटी के रूप में भी जाना जाए। उन्होंने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि खूंटी में एक इंजीनियरिंग कॉलेज कि स्वीकृति सरकार की ओर से हो। इस दौरान झारखंड रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय की एक काफी टेबल बुक पत्रिका का लोकार्पण राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने किया सहित अन्य अतिथियों ने किया।

इस अवसर पर खूंटी सासद कड़िया मुंडा, मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, अपर मुख्य सचिव अमित खरे, सचिव उच्च शिक्षा एवं तकनिकी विभाग अजय कुमार सिंह, डीजीपी डीके पांडेय, उपायुक्त खूंटी, पुलिस अधीक्षक खूंटी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Note: News shared for public awareness with reference from the information provided at online news portals.

 

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

More Stories From Jharkhand